बुधवार, 6 जुलाई 2011

!! तड़का मार के !!

"""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""
~~~~~~ *** तड़का मार के *** ~~~~~~
"""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""
'चावल' बोला 'दाल' से,मुझ बिन तू अधूरी !
चल, 'कुकर' में चलें, कमी करदें पूरी !!
|
|
|
'साम्भर' कहे 'इडली' से,इतनी मत खुश होय !
जो मैं न तेरे साथ तो,तुझे ना पूछे कोय !!|
|
|
'वडा' बोला 'पाव' से,रौब से मत कर बात !
मुम्बई के ठेलों पर तेरी,मुझ बिन क्या बिसात !!
|
|
|
'भेल' खडा चौपाटी पर,'पूरी' को बुलाय !
आजा मेरी बांहों में,हम 'भेल-पूरी' बन जाय !!
|
|
|
ठेले पर पडा आम 'लंगडा',झर-झर आंसू बहाय !
बोला-मुझे ना पूछे कोई,सब 'हापूस' ले जाय !!
""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""

1 टिप्पणी:

  1. आप का बलाँग मूझे पढ कर आच्चछा लगा , मैं बी एक बलाँग खोली हू
    लिकं हैhttp://sarapyar.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं